स्वयं और समाज को नोवेल कोरोना वायरस से बचाना हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी - कलेक्टर

स्वयं और समाज को नोवेल कोरोना वायरस से बचाना हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी - कलेक्टर
कलेक्टर, एसपी ने की जुलूस-जलसों का आयोजन नहीं करने की अपील
कोरोना वायरस संबंधी सूचनाओं के लिए मो.न.9685813093 पर कर सकते हैं सम्पर्क

रायसेन,- नोवेल कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के संबंध में कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में धर्म गुरूओं, गणमान्य नागरिकों तथा मीडिया प्रतिनिधियों की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि कोरोना वायरस घातक हैं तथा इसका संक्रमण बड़ी तेजी से फैलता हैं। जिले में वायरस की रोकथाम के लिए पहले से ही सतर्क रहना होगा तथा सावधानी बरतनी होगी। उन्होंने कहा कि अभी जिले में कोई भी व्यक्ति नोवेल कोराना वायरस से संक्रमित नहीं हैं, आगे भी यह वायरस न फैले इसके लिए आम जनता में जागरूकता लाना जरूरी है।
कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि आमजन को नोवल कोरोना वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी सलाह तथा उपायों को अपनाने के लिए जागरूक करना जरूरी है। उन्होंने सभी धर्म गुरूओं, आमजन से पर्वो एवं विशेष अवसरों पर धार्मिक तथा सार्वजनिक स्थलों पर सामाजिक समारोह, जुलूस, सम्मेलन, सामूहिक आदि कार्यक्रम जहां बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होते हैं, ऐसे आयोजन नहीं करने का अनुरोध किया है।
कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि आम नागरिकों को इस वायरस से बचाव के लिए सावधानी बरतनी होगी। वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोगों को भीड़भाड़ एवं सामूहिक कार्यक्रमों से दूरी बनाकर रखना होगी। उन्होंने कहा कि व्यक्ति सामाजिक गतिविधियां, आपसी संपर्कां आदि को सीमित करें, कम से कम लोगों के संपर्क में आएं, न तो सामूहिक कार्यक्रमों का आयोजन करें और न ही भाग लें। सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचें तथा अति आवश्यक होने पर ही जाए। जरूरी होने पर यात्राएं करें।
कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों एवं भवनों में अनावश्यक चीजों को हाथ न लगाए, बार-बार साबुन या एल्कोहल बेस्ड सैनेटराईजर से हाथ धोएं। बीमार लोगों के संपर्क में आने से बचें। कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण तेज बुखार, सुखी खॉसी, गले में खरास, सांस फुलना आदि हैं। इनमें से कोई भी समस्या होने पर तुरंत शासकीय चिकित्सालय में डॉक्टर से संपर्क कर जांच कराएं जिससे की वायरस के लक्षण का पता चल सकें व उचित उपचार हो सकें।
बैठक में एसपी श्रीमती मोनिका शुक्ला ने नोवेल कोरोना वायरस के संबंध में सोशल मीडिया में चल रही भ्रामक खबरों से दूर रहने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्यक्ति को सर्दी, खॉसी या गले में खराश होती है तो वह तुरंत चिकित्सक से स्वास्थ्य परीक्षण कराएं। उन्होंने सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं से नोवेल कोरोना वायरस से बचाव के उपायों और सावधानियों संबंधी फ्लेक्स धार्मिक तथा सार्वजनिक स्थलों पर लगाने की अपील की। सीईओ जिला पंचायत श्री अवि प्रसाद ने कहा कि वायरस संक्रमण से बचाव ही सबसे बेहतर उपाय हैं। बैठक में कलेक्टर के अनुरोध पर चैत्र नवरात्रि के अवसर पर प्रेस क्लब एवं प्रिंस मीडिया न्यूज द्वारा त्रिमूर्ति सलामतपुर चौराह मंदिर पर आयोजित मॉ भगवती देवी जागरण स्थगित करने का निर्णय लिया गया। जिला महामारी अधिकारी डॉ कुलदीप चौहान ने पीपीटी के माध्यम से नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण, बचाव तथा जिला चिकित्सालय में की गई तैयारियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले में नोवेल कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसका मोबाईल नम्बर-9685813093 है। बैठक में सीएमएचओ डॉ एके शर्मा सहित, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष श्री जमना सेन, हिन्दु उत्सव समिति के अध्यक्ष श्री बब्लू ठाकुर, मुस्लिम त्यौहार कमेटी के अध्यक्ष मो. यामीन, काजी श्री जहीरूद्दीन, श्री राकेश तोमर तथा मीडिया प्रतिनिधि उपस्थित थे।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.