नोवेल करोना संक्रमण को रोकने त्वरित और प्रभावी कार्यवाही करें- श्री पोरवाल

नोवेल करोना संक्रमण को रोकने तथा संक्रमित व्यक्तियों के उपचार में त्वरित और प्रभावी कार्यवाही करें- श्री पोरवाल
श्री पोरवाल ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए उठाए गए कदमों और आगे की तैयारियों की समीक्षा की

रायसेन- रायसेन जिले के प्रभारी वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी  विवेक कुमार पोरवाल ने कोरोना वायरस कोविड-19 से निपटने के लिए रायसेन जिले में उठाये गए कदमों और आगे की तैयारियों की कलेक्ट्रेट कार्यालय में बैठक आयोजित कर समीक्षा की। कलेक्टर  उमाशंकर भार्गव ने नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण, संक्रमण की रोकथाम तथा संक्रमित व्यक्तियों के इलाज के संबंध में विस्तार से अवगत कराया। श्री पोरवाल ने रायसेन शहर में इंडियन चौराहे तथा केन्द्रीय विद्यालय में स्थित कोविड केयर सेंटर का भी निरीक्षण किया।
                                   श्री पोरवाल ने कोरोना वायरस कोविड-19 को नियंत्रण में रखने के लिए अत्यंत सक्रियतापूर्वक निगरानी करने, रोगियों के संपर्क में आए लोगों का प्रभावकारी ढंग से पता लगाने और इस दिशा में ठोस कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पतालों में समुचित प्रबंधन जैसे कि ओपीडी व्यवस्था, टेस्टिंग किटों, निजी सुरक्षात्मक उपकरणों (पीपीई) एवं दवाओं की उपलब्धता और पर्याप्त संख्या में आइसोलेशन वार्डों के इंतजाम के संबंध में जानकारी ली। श्री पोरवाल ने अस्पतालों को सभी स्वास्थ्यकर्मियों के लिए पर्याप्त संख्या में सुरक्षात्मक सामग्री, पर्याप्त संख्या में निजी सुरक्षात्मक उपकरण (पीपीई), मास्क, सैनिटाइजर, थर्मामीटर इत्यादि की उपलब्धता और आवश्यकता के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने इस कार्य के लिए तैनात किए जाने वाले दलों को क्वारंटाइन केंद्रों का नियमित निरीक्षण एवं निगरानी करने के निर्देश दिए है, ताकि वहां आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित की जा सकें।
             वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी श्री पोरवाल ने कहा की कोविड-19 संक्रमण नियंत्रण के लिए बचाव ही बेहतर उपाय है इसलिए लॉकडाउन के दिशा निर्देशों का कढ़ाई से पालन किया जाए। उन्होंने सैम्पलिंग और उपचार से संबंधित प्रोटोकाल का पालन करने के निर्देश दिए। श्री पोरवाल को कलेक्टर श्री भार्गव ने अवगत कराया कि जिले में अभी तक 55 कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति मिले हैं। जिले में अभी तक 28086 लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की गई है तथा 259 लोग संस्थागत कोरेंटाइन हैं। हॉस्पीटिल आइसोलेशन में 76 मरीज भर्ती हैं। पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोनिका शुक्ला ने जिले में लॉकडाउन के दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने के लिए की जा रही कार्यवाही के बारे में अवगत कराया। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा नोडल अधिकारी श्री अवि प्रसाद, एसडीएम श्रीमती मीसा सिंह, सीएमएचओ डॉ एके शर्मा, सिविल सर्जन डॉ बीबी गुप्ता सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.