कतिया गौरव परिवार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में 51 प्रकार के सम्मान किए घोषित

कतिया गौरव परिवार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में 51 प्रकार के सम्मान घोषित


कतिया गौरव सम्मान 2020 की घोषण



मंडीदीप-कतिया गौरव परिवार द्वारा समाज के प्रत्येक व्यक्ति को परिवार समाज व देश में प्रतिस्थापित करनें व समाज के प्रत्येक व्यक्ती को गौरवॉवित करने के उद्देश्य से कतिया गौरव सम्मान समारोह आयोजित किया जाना है। इसकी घोषणा कतिया गौरव परिवार के संयोजक अनिल भवरे ने शुक्रवार को संगठन के जिम्मेदार प्रमुख लागों से संचारमध्यमों से बैठक आयोजित कर की। यह पुरस्कार कतिया महोत्सव 2020 के लिए है। इसके लिए आयोजन दिसम्बर या जनवरी 2021 में आयोजित किया जाना है।


            जानकारी देते हुए श्री भवरे ने बताया कि समाज में प्रत्येक व्यक्ति का स्थान और सम्मान उसके सद्कार्य और गुणों से निश्चित होता है। यदि लोगों को उनके मानव मूल्यों,सदगुणों और समाजोपयोगी कार्यों के लिए सम्मान अैर प्रोत्साहन मिलता रहे तो लोग सदैव ही श्रेष्ठ से श्रेष्ठतम कार्य कारने के लिए प्रेरित होंगें।


उन्होने कहा कि लोगों के श्रेष्ठ गुणों कार्यों व उपलब्धियों को समाज व लोगों के बीच समय समय पर विभिन्न माध्यमों से बताया जाना चाहिए। जिससे अन्य लोग उनके जीवन से प्रेरित हो अनुसरण कर स्वं व अपने समाज पर गैारवॉवित हो सकें। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए लगातार विभिन्न कार्यक्रम किए जाते रहे हैं और आगे भी नियमित रूप से आयोजित किए जाऐंगें।  जैसे- गुरु शिष्य सम्मान समारोह,वरिष्ठ जन सम्मान समारोह, जनसंवाद यात्रा,प्रतिभा सम्मान समारोह,खेलकूद उत्सव,कतिया संवाद आदि।


 इसी क्रम में कतिया गौरव उत्सव महोत्सव भी आयोजित किया जाना है। इन आयोजनों में जिला स्तर प्रांत स्तर व राष्ट्रीय स्तर पर समाज की प्रत्येक प्रतिभाओं वरिष्ठ जनों और समाज के हित चिंतकों के त्याग तक समर्पण से किए गए कार्यों के लिए उन्हें सम्मानित किया जाना है।


श्री भवरे ने आगे कहा कि इन पुरस्कारों की घोषणा वीर आखाजी जयंती के अवसर पर पूर्व में भी की गई थी। आज कतिया महोत्सव में किए जाने वाले विभिनन सम्मानों के नामों की घोषणा करते हुए मुझे अत्यंत प्रसन्नता हो रही है। जिन्हें प्रबुद्धजनों की संयुक्त पुरस्कार चयन समिति द्वारा चयनित कर नामॉकित कर घोषण के बाद प्रदान किए जाएंगे। सम्मान की मर्यादा और नियमावली का उल्लेख अलग से किया जाएगा। यह भी सुनिश्चित किया जाएगा की कतिया गौरव द्वारा सम्मानित व्यक्तियों को सिर्फ उस दिन ही नहीं, सिर्फ मंचों पर ही नहीं, व्यक्तिगत और सामाजिक जीवन में,घर परिवार में सामाजिक आयोजनों आजीवन और परलोकगमन के बाद भी सम्मान मिलता रहे।


 प्रत्येक सम्मान के लिए अलग-अलग मापदंड हैं। जिसकी नियमावली शीघ्र ही प्रकाशित की जाएगी।


 वे सम्मान निम्न है-


 कतिया शिरोमणि- सर्वश्रेष्ठ सामाजिक व्यक्ति को मरणोपरांत या वर्तमान में सामाजिक सेवा से निवृत्त हो जिनकी उम्र 60 से अधिक हो सर्वश्रेष्ठ कार्य के लिए दिया जाना है।


 कतिया रत्न- समाज को जिनके कार्यों से गौरव मिला मिल रहा हो। जिन्होंनें राष्ट्रीय स्तर पर समाज का नाम रोशन किया हो। जिनके कार्याें से समाज में परिवर्तन आया हो। जीनके कार्य समाज में प्रेरक मार्गदर्शक व स्मर्णीय हों। उनका कार्य क्षेत्र सम्पूर्ण समाज हो।


कतिया गौरव- समाज की वह प्रतिभा जो वर्तमान में प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर समाज का नाम गौरवान्वित कर रही हो। जिससे परिवार अैर समाज का नाम रौशन हो रहा हो। इसमें शिक्षा,प्रतिभा, उखेल,राजनीति,समाज सेवा,महिला उत्थान,जन जागरण,कानूनी सहायता, कार्यविशेष,आपात काल में सेवा आदि के लिए प्रतिवर्ष दिया जाना है।


 कतिया स्वाभिमान-  ऐसे स्वाभिमानी व्यक्ति जिन्होंने अपने व्यक्गित व जातीय स्वाभिमान के लिए संघर्ष किया हो। जिन्होंने समाजिक स्वाभिमान के लिए कार्य किये हों। जिससे उनकी पहचान बनी।


 कतिया गौरव दानवीर- जिन्होंने समाज को धन या भूमि दान कर उपकृत किया हो। समाज के लिए निःस्वार्थ भाव से त्याग किया हो।


 कतिया वीर- ऐसे वीर जिन्होंने शौर्य पराकृम से वीरोचित कार्य कर परिवार व समाज का नाम रौशन किया हो। अदम्य साहस से वीरता का परिचय दिया हो।


कतिया गौरव तेजस्विनी- यह उन महिलाओं के लिए होगा, जिन्होंने गौरवशाली कार्य किया हो। अदम्य साहस से वीरता का परिचय दिया हो। विपरीत परिस्थितियों में स्वयं व परिवार को संभाला हो। खुद घर परिवार समाज के लिए आदर्श बन सुयोग्य और समर्थ साबित किया हो। इसमें विभिन्न कार्य क्षेत्र के अनुसान सम्मान दिया जाएगा। जैसे- स्वयंसिद्धा- व्यापार कर पालन पोषण,नित्यश्री-घर परिवार में आदर्श माहौल बनाने वाली। कुल 5 प्रकार के।


कतिया सुमन- यह 15 वर्ष तक की आयु के बच्चों के लिए है जो विभिन्न क्षेत्रों में अपना नाम रोशन कर रहे है। जैसे शिक्षा,कला, संस्कार,नृत्य,गायन,वादन,खेल,संस्कार,व्यवहार आदि के साथ मानवमुल्यों के लिए।


कतिया गौरव ज्ञानदूत- शिक्षा व संस्कारों को प्रेषित कर समाज को आगे बढ़ाने के लिए कार्य करने पर।


कतिया गौरव धरतीपुत्र- यह उन सर्वश्रेष्ठ किसानों के लिए है जिन्होंने कृषि के क्षेत्र में अन्य किसानों से हटकर विशेष कार्य किए हैं।


आदर्श कतिया सम्मान- यह सम्मान विभिन्न क्षेत्रों किए गए विशेष कार्याें के लिए दिया जाना है। आदर्श मॉ, आदर्श बहन, आदर्श पत्नी, आदर्श मित्र,आदर्श सास, आदर्श बहु,आदर्श परिवार जैसे विभिन्न गुणें के लिए दिए जा सकेंगे। इसमें और भी कार्य व बातें जुड़ सकेंगे। उनकी संख्या आवश्यक्ता अनुसार होगी। इस तरह प्रतिवर्ष 21 से  शुरू कर जितने मिल सके लोगों को यह पुरस्कार दिए जाना है।


 इन पुरस्कारों की घोषणा पात्र व्यक्तियों की उपलब्धता पर निर्भर है। सम्मान में स्मृति चिन्ह,प्रमाण पत्र,परिचय पत्र,बैच व निर्धारित राशि देने का की योजना है।


 इसके साथ ही ऐसे पुरुष महापुरुषों के लिए जो अब इस दुनिया में नहीं है। ऐसे महापुरुषों की स्मृति को संजोने चिरस्मरणीय बनानेे के कार्य,उनकी यादों को सहेजने के लिए कार्य किया जाना है। एसे लोगों को कतिया समाज की धरोहर से सम्मातिन किया जाएगा। उनके लेख रचनाएं व फोटो चित्र आदि संग्रहित संरक्षित किए जाएंगे। जिसे कतिया गौरव परिवार द्वारा उचित स्थनों पर  संरक्षित किया जाएगा।


 स्वजनों व सामाजिक विद्वानों से विचार आमंत्रित हैं।


 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.