अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस-भारतीय संस्कृति एवं संस्कार सिखाते हैं नारी का सम्मान

 अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस

भारतीय संस्कृति एवं संस्कार सिखाते हैं नारी का सम्मान-श्रीमती पटेल

हुनर हाट, शीरोज टॉक्‍स एवं विभिन्‍न गतिविधियों का हुआ आयोजन



उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाली महिलाओं एवं छात्राओं को किया पुरस्‍कृत

अखिलेश बिल्लौरे

हरदा - जिला पंचायत अध्‍यक्ष श्रीमती कोमल सुदीप पटेल ने कहा कि भारतीय संस्कृति एवं देश के संस्कार में नारी का मान - सम्मान का बहुत बड़ा महत्व है। इसलिए हमारे देश में नारी को देवी एवं मां जैसे शब्दों से संबोधित किया जाता है। नारी के द्वारा स्वयं अपना ही नहीं पूरे परिवार का ख्याल रखा जाता है। चाहे वह मॉं हो, बेटी हो या पत्नी हो, हर रूप में वह दूसरों का ख्याल रखती हैं। इसलिए नारी जीवन बहुत महत्वपूर्ण है। श्रीमती पटेल  अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर डिग्री कॉलेज हरदा में महिला एवं बाल विकास विभाग के हुनर हाट एवं अपराजिता कार्यक्रम को संबोधित कर रही थी। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी संजय त्रिपाठी, जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री नीलम रैकवार, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा श्रीमती प्रियंका मेहरा उपस्थित रहीं।

      कार्यक्रम के दौरान श्रीमती पटेल ने कहा कि देश में शिक्षा के रूप में क्रांतिकारी बदलाव होने के कारण महिलाएं अनेक क्षेत्रों में आगे आ रही हैं। अब महिलाएं देश की सुरक्षा, खेल, राजनैतिक विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी व्यापार एवं नौकरी मैं पुरुषों के साथ बराबरी के रूप में सहयोग कर रही हैं। उन्होंने उपस्थित छात्राओं स्व सहायता समूह की बहनों रेवा सखियों आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं हरदा जिले में कार्यरत स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों समाजसेवी को आव्हान किया कि महिला दिवस पर हमें यह प्रण लेना चाहिए कि समाज में महिलाएं बराबर के अवसर प्राप्त करें। समाज में किसी प्रकार से महिला एवं पुरुषों के बीच में भेदभाव उत्पन्न न हो सामाजिक रुप से दोनों पक्ष महत्वपूर्ण है।

हुनर हाट, शीरोज टॉक्‍स एवं विभिन्‍न गतिविधियों का हुआ आयोजन

      जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती पटेल की अध्यक्षता में डिग्री कॉलेज हरदा में विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया। तीन दिवसीय कार्यक्रम की हुनर हाट से शुरुआत की गई। शीरोज़ टॉक्स के माध्यम से महिलाओं द्वारा अपने अनुभवों और अपने संघर्ष को मंच के माध्यम से साझा किया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से जिले के कलाकारों के द्वारा मनमोहक प्रस्तुतियां दी गई । कार्यक्रम में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, पहल सामाजिक संस्था एवं सिनर्जी संस्थान द्वारा भी स्टाल के माध्यम से महिलाओं के उत्पादों को प्रदर्शित किया गया। हुनर हाट के माध्यम से प्रदर्शित समूहों के उत्पादों की श्रीमती पटेल द्वारा प्रशंसा की गई।

उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाली महिलाओं एवं छात्राओं को किया पुरस्‍कृत


      कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओ एवं महिला एवं बाल विकास विभाग से चयनित सशक्त वाहिनी की विभिन्न प्रतियोगिताओं की बालिकाओ को पुरस्कृत किया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.