कवच के समापन पर 10 प्रशिक्षकों को किया सम्मानित 5 गांव में लेंगिक भेदभाव कम करने के उद्देश्य से किया काम

 कवच के समापन पर 10 प्रशिक्षकों को किया सम्मानित

 5 गांव में लेंगिक भेदभाव कम करने के उद्देश्य से किया काम

हरदा से अनिल मल्हारे 

हरदा / टिमरनी- तिनका सामाजिक संस्था द्वारा पिछले एक वर्ष में प्रोजेक्ट कवच संचालित कर रही थी कवच प्रोजेक्ट समाज मे खेल के माध्यम से समाज मे व्याप्त लैंगिक भेदभाव को कम करने के उद्देश्य से चलाया गया जो टिमरनी नगर सहित 5 ग्रामीण क्षेत्रो 10 प्रशिक्षक कर रहे थे जिन्होंने अपने अलग अलग आइडिया को लेकर समाज मे लैंगिक समानता के लिए काम किये जो इस प्रकार है । संस्था के अध्यक्ष रितेश तिवारी ने बताया कि गुरुवार को शाम 6 बजे से रैन बसेरा हॉल में 10 प्रशिक्षको ने अपनी एक वर्ष की यात्रा के साथ अपनी कहानी साझा की एवं कार्यक्रम में आये अतिथियो ने प्रशिक्षको को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया ।

वहीं मना मंडलेकर ने अपने एक वर्ष की इस यात्रा के अनुभव साझा किए । इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राष्ट्रपति अवार्ड सम्मानित सतीश शुक्ला, सिनर्जी संस्थान हरदा के CEO अजय पंडित जी, एव तिनका के विभिन्न स्थानों में खेल कक्षाएं संचालित करने वाले प्रशिक्षक एव पत्रकार महोदय शामिल हुए ।

इन 5 गांव में कवच प्रोजेक्ट संचालित हुआ

1 कबाड़ से जुगाड़ - रहटगांव में अनीश कहार व राधिका गौर के द्वारा संचालित किया गया 

2. मेरी राह मेरी मंजिल - टिमरनी बघवाड में राम वर्मा द्वारा चलाया गया 

3.क्लीन इंडिया - फिट इंडिया (सिराली) में दिव्या बिले और शालिनी चौहन

4. खेलेगा इंडिया -पड़ेगा इंडिया, जनरल लाइब्रेरी ग्राम छिदगांव तमोली जिसे अनिल मल्हारे एवं  रविन्द्र मल्हारे द्वारा संचालित किया गया 

5. चुप्पी तोड़ो खुल के बोलो ( आलमपुर) में सोनिका हलवी एवं विजय काजवे के द्वारा संचालित किया गया । इस कार्यक्रम का संचालन राकेश यादव एवं दीपक खरे द्वारा किया गया। तिनका का यह समाज हित मे कार्य आगे भी जारी रहेगा

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.