ग्राम सभा अपनी संवैधानिक शक्ति को समझे: डाक्टर अशोक मर्सकोले कार्यक्रम में विकलांग, असहाय एवं विधवा महिलाओं को 26 राशन किट वितरण किया

  खाद्यान्न वितरण प्रधानमंत्री आवास योजना में लोगों को पट्टे वन अधिकार,निस्तार अधिकार पत्र,पेयजल, सिंचाई, थ्रिफेज बिजली शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को मिले।

ग्राम सभा अपनी संवैधानिक शक्ति को समझे: डाक्टर अशोक मर्सकोले 

कार्यक्रम में विकलांग, असहाय एवं विधवा महिलाओं को 26 राशन किट वितरण किया

मंडला-  नर्मदा घाटी नव निर्माण समिति ने शुक्रवार  20 अगस्त 2021 को ग्राम चुभावल (सुअरझर) विकास खंड मोहगांव, मंडला में जनप्रतिनिधि एवं समुदाय के बीच जन संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्रामीणों ने स्थानीय समस्याओं से विधायक डॉअशोक मर्सकोले व जनप्रतिनिधियों को अवगत कराया। इसमें मुख्य रूप से खाद्यान्न वितरण प्रधानमंत्री आवास योजना बरसों से कभी लोगों को पट्टे वन अधिकार,निस्तार अधिकार पत्र,पेयजल, सिंचाई, थ्रिफेज बिजली शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्तियों को मिलने जैसी मांग विधायक से की।  विधायक ने लोगों आस्वासन दिया कि सबंधित विभाग के अधिकारियों से समन्वय कर  समाधान का प्रयास करेंगे।

विधायक डाक्टर अशोक मर्सकोले ने स्वर्गीय राजीव गांधी जयंती दिवस को स्मरण करते हुए कहा कि त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था के माध्यम से सत्ता का विकेन्द्रीकरण राजीव गांधी का सपना था।ग्राम सभा एक संवैधानिक संस्था है। इसलिए ग्राम सभा अपने अधिकार और दायित्व को समझकर व्यवस्था का संचालन करें।चर्चा में आए विभिन्न समस्याओ पर प्रकाश डालते हुए आपने कहा कि सबंधित विभाग के अधिकारियों से समन्वय कर  समाधान का प्रयास करेंगे।विधायक ने कहा कि आप अपनी समस्याओ को लेकर कभी भी मेरे पास आ सकते हैं।आपका जनप्रतिनिधि होने के नाते यह मेरा काम और दायित्व भी है।आपने कहा कि मैं बङे बांध की जगह स्टाप डेम बनाकर लिफ्ट सिंचाई व्यवस्था बनाने का पक्षधर हूं।उपस्थित समुदाय से करोना टीका लगाने की अपील भी विधायक महोदय ने किया। 

वयोवृद्ध धरम सिंह परते पुर्व सरपंच की अध्यक्षता में शुरू हुए कार्यक्रम में सुअरझर के मुन्ना लाल बरकङे ने कहा कि अपात्र मालगुजार चौकसे को खाद्यान्न मिल रहा है परन्तु बहुत से पात्र व्यक्ति को राशन नहीं मिल रहा है।जबकि ग्राम सभा ने राशन कार्ड निरस्त करने का प्रस्ताव पारित किया है।चुभावल पंचायत सचिव ने कहा कि अगले सप्ताह इस सबंध में कार्रवाही हेतु सबंधित अधिकारी को पत्र भेजा जाएगा।उपस्थित लोगों ने कहा कि चुभावल पंचायत के बांझडिह, धमनपानी, सुअरझर और वन ग्राम दलदला के एक भी ग्रामवासियो को आजतक प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ नहीं मिला है।इस सबंध में पंचायत सचिव ने बताया कि तकनिकी कारणों से इस पंचायत के लोगों का नाम साईट में अपलोड नहीं हो पाया है।धमनपानी के लोगों ने बताया कि सामुदायिक वन अधिकार का दावा ग्राम सभा द्वारा उपखंड समिति को भेज दिया गया है परन्तु इसका निराकरण नहीं हो रहा है। इस सबंध में सचिव ने बताया कि धमनपानी मंडला जिले में है जबकि ग्राम वासियों का निस्तारी जंगल डिंडोरी जिले में  होने से निस्तार अधिकार पत्र देने में दिक्कत आ रही है। गांव के लोगों ने विधायक को बताया कि राजस्व भूमि पर विगत चालीस सालों से कब्जा कर खेती कर रहे हैं।उक्त भूमि का अधिकार पत्र दिलाया जाए। जिससे उक्त भूमि के विकास हेतु शासकीय योजना का लाभ मिल सके।बसनिया बांध से प्रभावित गांव धमनपानी एवं चुभावल के लोगों ने मांग रखी कि बसनिया बांध को निरस्त कराया जाए।पेयजल, सिंचाई, थ्रिफेज बिजली आदि की मांग भी रखी गई।

                     कार्यक्रम पश्चात विकलांग, असहाय एवं विधवा महिलाओ को 26 राशन किट वितरण किया गया।कार्यक्रम में राधेशाह मरावी,किशोर अग्रवाल, हसीब खान,इमरान खान,मानिक परते,सेवक राम उईके, प्रेम धुर्व , फग्गन मरावी,जयपाल सिंह,बंटी खान,गुलाब झारिया, हजारी लाल झारिया, राज कुमार सिन्हा आदि उपस्थित थे।कार्यक्रम का संचालन शारदा यादव ने किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.