7 अगस्त राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस - आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश में मजबूत कड़ी होगा हाथकरघा उद्योग

 7 अगस्त राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस  -

आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश में मजबूत कड़ी होगा हाथकरघा उद्योग

रायसेन,  आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के सपने को साकार बनाने में हाथकरघा उद्योग एक मजबूत कड़ी है। देश और प्रदेश में हाथकरघा बुनकरों की कला को सम्मानित करने एवं हाथकरघा उद्योग को समृद्ध करने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष 7 अगस्त को राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस का आयोजन किया जाता है। इस श्रृंखला में इस वर्ष भी राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस का आयोजन गौहर महल, भोपाल में किया जा रहा है।
प्रबंध संचालक हाथकरघा श्री राजेश कौल ने बताया कि हाथकरघा संचालनालय एवं संत रविदास म.प्र.हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम द्वारा प्रदेश के हाथकरघा क्लस्टर चंदेरी, महेश्वर, सारंगपुर मंदसौर, वारासिवनी एवं सौसर में भी 7वें राष्ट्रीय हाथकरघा दिवस पर आयोजन किये जा रहे हैं। इस अवसर पर नवीन विकसित किये जा रहे हाथकरघा क्लस्टर डिण्डोरी जिले के विकास खण्ड-बजाग, ग्राम पिंडरूखी एवं सरवाही के 50 बुनकर हितग्राहियों को हाथकरघा एवं सहायक उपकरण और 5 बुनकरों को ताना मशीन 90ः अनुदान पर प्रदान किये जायेंगे।
    इसी क्रम में महेश्वर और चंदेरी में बुनकरों के लिये कार्यशालाएँ आयोजित की जायेंगी। पारम्परिक हाथकरघा क्लस्टर चंदेरी में रियल-जरी वैवाहिक साड़ी के डिजाइन विकास तथा प्रदेश की स्थापत्य धरोहरों के डिजाइनों पर आधारित वस्त्रों के डिजाइन विकास करने के लिये 75-75 दिवस की कार्यशालाऐं प्रारंभ की जायेंगी। इनमें 40 बुनकर उद्यमी लाभान्वित होंगे। महेश्वर में रियल-जरी वैवाहिक साड़ी एवं स्थापत्य डिजाइन विकास की कार्यशालाओं में 30 उद्यमी को चुनकर लाभान्वित किया जाएगा। इसी प्रकार सॉसर में कॉटन वस्त्र/स्टोल के नवीन डिजाइन में 20 बुनकर उद्यमियों द्वारा उत्पादन प्रारंभ किया जायेगा।
गौहर महल में सावन उत्सव की बहार-
इस वर्ष कोविड महामारी के कारण बुनकरों के पास एकत्रित सामग्री को विक्रय करने के लिये निगम द्वारा 01 से 14 अगस्त 2021 तक भोपाल के गौहर महल में सावन उत्सव का आयोजन किया गया है, जिसमें प्रदेश के बुनकरों एवं हस्त शिल्पियों को उनकी सामग्री के विक्रय का अवसर प्राप्त हो रहा है।
मृगनयनी एम्पोरियम से वर्चुअल प्रदर्शनी-
7 अगस्त को राष्ट्रीय हाथकरघा विकास निगम भारत सरकार, वस्त्र मंत्रालय द्वारा आयोजित वर्चुअल प्रदर्शनी में मृगनयनी एम्पोरियम के माध्यम से प्रदेश के बुनकरों द्वारा तैयार उत्पादों को प्रदर्शित किया जायेगा। वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली द्वारा आयोजित राष्ट्रीय हाथकरघा समारोह के दौरान चंदेरी, महेश्वर, सारंगपुर एवं मंदसौर के बुनकर जूम मीटिंग से सीधा संवाद करेंगे।
हाथकरघा वस्त्रों पर 30 प्रतिशत की विशेष छूट-
संत रविदास म.प्र. हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम के प्रदेश में स्थित 24 मृगनयनी एम्पोरियमों में 7 अगस्त से 14 अगस्त, 2021 तक हाथकरघा सप्ताह में हाथकरघा वस्त्रों पर 30ः तक की विशेष छूट भी ग्राहकों को दी जाएगी।
स्पेशल हैण्डलूम एक्सपो अगस्त माह के अंत में-
प्रदेश के हाथकरघा बुनकरों द्वारा तैयार वस्त्र सामग्री को विक्रय करने का अवसर प्रदान कराने के लिये स्पेशल हैण्डलूम एक्सपो का आयोजन भी अगस्त माह के अंत में प्रस्तावित है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.