भोपाल इटारसी सेक्शन पर भी मेमो ट्रेन ट्रेन चलाए जाने की तैयारी मेमो ट्रेन की सौगात मिलने से सुगम और सुरक्षित होगा सफर

 भोपाल इटारसी सेक्शन पर भी मेमो ट्रेन ट्रेन चलाए जाने की तैयारी 

मेमो ट्रेन की सौगात मिलने से सुगम और सुरक्षित होगा सफर

विद्यार्थियों व्यापारियों और नौकरी पैसा लोगों को होगी आसानी इटारसी से लंबी दूरी की ट्रेन पकड़ने में नहीं करना पड़ेगा परेशानियों का सामना, 2,000 से अधिक अप डाउनर्स को मिलेगा लाभ

 मंडीदीप। प्रतिदिन अप डाउन करने वाले लोगों की सुविधा के लिए भोपाल रेल मंडल की ओर से भोपाल बीना सेक्शन पर मेमो ट्रेन संचालित की जा रही है। इसके बाद इसी तरह भोपाल इटारसी सेक्शन पर भी यह ट्रेन चलाए जाने की तैयारी की जा रही है फिलहाल इसका प्रस्ताव रेलवे बोर्ड के पास विचाराधीन है। जिसे शीघ्र स्वीकृति मिलने की उम्मीद व्यक्त की जा रही है। यदि मंडल के इस प्रस्ताव को बोर्ड की हरी झंडी मिल जाती है तो इससे उद्योग नगरी के लगभग 2000 से अधिक अप डाउनर्स को इसका लाभ मिलेगा। 

       ज्ञात है कि नगर से बड़ी संख्या में लड़के, लड़कियां भोपाल के विभिन्न कॉलेजों में पढ़ाई करते हैं इनके अलावा कई लोग प्राइवेट बैंकों सहित अन्य प्रतिष्ठानों में जॉब करने भोपाल जाते हैं यह सभी बस या निजी वाहनों से सफर करते हैं। जिससे सड़क पर तो यातायात का भारी दबाव होता ही है दुर्घटना होने का भी डर बना रहता है। इसके अलावा यह लोग  अभी लंबी दूरी की गाड़ियों का इंतजार करते हैं और जल्दबाजी में अक्सर बगैर टिकट भी यात्रा करते हैं।ऐसी परिस्थितियों में बगैर टिकट पकडे जाने पर जुर्माना भी किया जाता है। रेल मंडल के प्रस्ताव से उद्योगनगर वासियों को काफी उम्मींदें है। यहां के मुसाफिर सुगम सफर के लिए मेमो ट्रेन की सौगात चाहते हैं।  

ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष कैलाश गुप्ता कहते हैं कि नगर को मेमो ट्रेन की सुविधा मिलने से विद्यार्थियों,व्यापारियों व आमजनों को राहत मिलेगी। ट्रेन के चलने से औबेदुल्लागंज के नजदीक स्थित धार्मिक व पर्यटन स्थल विश्व प्रसिद्व भोजपुर,भीम बैठिका एवं सलकनपुर की यात्रा भी आसानी से कर सकेंगे। वहीं लंबी दूरी की यात्रा करने वाले यात्रि इटारसी से ट्रेन आसानी से पकड़ सकेंगे। 

कम होगा ट्रैफिक दबाब :

टीआई कुंवर सिंह मुकाती का कहना है कि  यहां के रहवासियों के लिए रेल सफर का ज्यादा विकल्प न होने से अधिकांश लोगों को सडक़ मार्ग का उपयोग करना पड़ता है। जिससे नेशनल हाइवे 12 पर यातायात का भारी दबाब रहता है। मेमो ट्रेन की सुविधा मिलने से सडक़ पर यातायात का दबाब व हादसे तो कम होगे ही लोगों का सफर भी सुगम और सुरक्षित हो जाएगा। 

इनका कहना है

भोपाल, बीना  सेक्शन में मेमो ट्रेन चलाने का फैसला हो चुका है। अब भोपाल और इटारसी सहित अन्य स्टेशनों के लिए प्रस्ताव बोर्ड के पास विचाराधीन है। जिसे जल्द ही स्वीकृति मिलने की उम्मीद है।

विजय प्रकाश, सीनियर डीसीएम रेलवे भोपाल

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.