आशा, ऊषा कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री को सौंपा ज्ञापन

आशा, ऊषा कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री को सौंपा ज्ञापन

रायसेन। वैक्सीनेशन महाअभियान का शुभारंभ करने रायसेन आए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी को आज आशा, ऊषा एवं सहयोगिनी कार्यकर्ताओं ने अपनी छह सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने स्वास्थ्य मंत्री को अपनी समस्याओं से भी अवगत कराया। उन्होंने कहा कि आशा, ऊषा कार्यकर्ता लंबे समय से अपने हक की लड़ाई लड़ रही हैं, लेकिन स्वास्थ्य अमले में अपनी अहम भूमिका का निर्वहन करने वाली कार्यकर्ताओं की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री से मांग की कि वे वर्ष 2005 से एनएचएम के अंतर्गत कार्य कर रही हैं। कोविड महामारी के दौरान भी हमने अपनी व अपने परिवार की जान जोखिम में डालकर बगैर किसी सुरक्षा संसाधन एवं सम्मानजनक पारिश्रमिक के अपने कत्र्तव्य को अंजाम दिया है। बावजूद इसके सरकार द्वारा हमारी अनदेखी की जा रही है। कार्यकर्ताओं ने मांग की है कि उन्हें सरकारी कर्मचारी का दर्जा देते हुए पद अनुरूप 18 हजार से 24 हजार रुपए मानदेय दिया जाए, आपदा के दौरान हमने अग्रिम पंक्ति करोना योद्धा के रूप में कार्य किया है, इस दौरान हमारे परिवार के इलाज का खर्च शासन द्वारा वहन किया जाए, प्रोत्साहन राशि 10 हजार के अलावा अनुकम्पा नियुक्ति भी प्रदान की जाए। निर्धारित योग्यता रखने वाली आशा, ऊषा एवं आशा सहयोगिनी कार्यकर्ताओं को 6 माह का प्रशिक्षण देकर एएनएम के रिक्त पदों पर नियुक्त किया जाए। उन्हें यात्रा भत्ता, दुर्घटना उपरांत मृत्यु होने पर 5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता एक मुश्त तथा शासकीय कर्मचारियों की भांति लाभ प्रदान किए जाने की मांग भी की है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.