संगठित रह कर ही शाेषण और अन्याय से बचा जा सकता है-साेनी हंडिया तहसील में भामसं की हिंडाेलनाथ मंदिर में नई समिति गठित

 संगठित रह कर ही शाेषण और अन्याय से बचा जा सकता है-साेनी

हंडिया तहसील में भामसं की हिंडाेलनाथ मंदिर में नई समिति गठित

हरदा। यदि आप किसी भी सरकार या निजी संस्था या संगठन में काम करते हैंऔर अकेले हैं ताे प्रबंधन या ठेकेदार शाेषण या अधिकाराेें से वंचित करने की काेशिश कर सकता है,लेकिन यदि आप संगठित हैं या किसी संगठन सदस्य हैं ताे इससे बच सकते हैं। यह बात भारतीय मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष जितेंद्र साेनी ने कही। वे बुधवार काे दाेपहर में हंडिया में स्थित हिंडाेलनाथ बाबा के मंदिर परिसर में तहसील इकाई के गठन के माैके पर संबाेधित कर रहे थे। उन्हाेंने लकड़ी और गुच्छे से टूटे हुए अंगूर का उदाहरण देते हुए कहा कि एक लकड़ी यानि एक व्यक्ति काे ताेड़ना संभव है,लेकिन लकड़ियाें के गटठे काे ताेड़ना मुमकिन नहीं है। इसी प्रकार अकेले रहने वाले व्यक्ति के शाेषित हाेेन की संभावना भी उतनी ही ज्यादा रहती है। साेनी ने भासमं के गठन का उददेश्य और अभी तक श्रमिक हित मेें किए काम के बारे में बताया। सह मंत्री मुकेश निकुम ने कहा कि भामसं देश का सबसे बड़ा श्रमिक संगठन है। अब इससे सैकड़ाें कर्मचारी संगठन जुड़े हैं। अकेले हरदा में ही 27 विभागों के कर्मचारी इससे संबंद्ध है,जिनके हक की लड़ाई संगठन सड़क पर लड़ रहा है। काफी हद तक सफलता भी पाई है। लेकिन यह नाकाफी है।

हिंडाेलनाथ मंदिर में नए पदाधिकारियाें ने संगठन की मजबूती और रेत खदान के कर्मचारियाें काे ठेकेदार के शाेषण से बचाने और नदी से मशीनाें के बजाय मजदूराें से रेत निकलवाने का काम दिलाने के लिए संघर्ष का संकल्प लिया। 

तहसील कार्यकारिणी का गठन-  तहसील में राजेश धनगर अध्यक्ष,राहुल जाट सचिव,ललित गुर्जर काेषाध्यक्ष बनाए गए। बब्लू केवट,इरफान खान,अशाेक धनगर,संजू केवट,दिलीप केवट काे उपाध्यक्ष बनाया गया। अंकित केवट,अाेम प्रकाश,विजेश केवट मंत्री बनाए गए। गाेलू काेरकू,मुकेश काेरकू,दीपक गुर्जर,बसंत केवट सह सचिव बनाए गए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.